Delhi Vidhan Sabha Chunav Result LIVE: दिल्ली में विधानसभा चुनाव की मतगणना के शुरूआती रुझानों में आम आदमी पार्टी बड़ी जीत की ओर बढ़ रही है. आम आदमी पार्टी अब तक 62 सीटों पर आगे चल रही है. जबकि बीजेपी 12 सीटों पर आगे है. कांग्रेस को एक भी सीट मिलते हुए नहीं दिख रही है. अरविंद केजरीवाल नई दिल्ली सीट से आगे हैं. अरविंद केजरीवाल का तीसरी बार दिल्ली का सीएम बनना तय माना जा रहा है. शुरुआती रुझानों में आम आदमी पार्टी की दिल्ली में सरकार तय है. आम आदमी पार्टी के दफ्तर में जश्न शुरू हो गया है. ढोल नगाड़े बज रहे हैं. आप मुख्यालय को नीले और सफेद रंग के गुब्बारों से सजाया गया है. यहां मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के बड़े-बड़े कट-आउट लगाए गए हैं

विधानसभा चुनाव में (Delhi Vidhan Sabha Election 2020) बड़ी जीत की मुनादी से पहले ही शुरूआती रुझानों के बाद आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ऐसा पोस्टर पोस्ट किया है, जिस पर चर्चाएं और कयास लगाए जाने शुरू हो गए हैं. आम आदमी पार्टी के फेसबुक पेज पर एक पोस्टर शेयर किया, जिसमें लिखा है कि ‘राष्ट्र निर्माण के लिए, आप से जुड़ें.’ इस पोस्टर में एक नंबर भी दिया गया है और अपील की गई है कि इस नंबर पर मिस्ड कॉल कर पार्टी से जुड़ें. ये पहली बार है जब आम आदमी पार्टी ने अपने कैंपेन में दिल्ली से निकलकर ‘राष्ट्र निर्माण’ की बात कही है.

कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या आम आदमी पार्टी अब राष्ट्रीय राजनीति में आने का मन बना चुकी है. क्या अरविंद केजरीवाल पीएम नरेंद्र मोदी को चुनौती देने के लिए आगे आएंगे. आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता भी कुछ ऐसा ही कह रहे हैं. हरि नगर से पार्टी के कार्यकर्ता संजीव सिंह ने कहा, ‘‘हम जानते थे. हमने देश की राजनीति को बदल दिया है. इस बार दिल्ली, अगली बार भारत.’’ एक अन्य कार्यकर्ता फरीन खान ने कहा, ‘‘हम उम्मीद करते हैं कि स्पष्ट बहुमत मिले ताकि यह संदेश जाए कि हिंदू-मुस्लिम राजनीति करना अब काम नहीं आएगा.’’

वहीं, सोशल मीडिया पर आम आदमी पार्टी की इस तस्वीर पर दूसरे राज्यों के लोग बधाई देने के साथ ही कह रहे हैं कि ‘मेरे राज्य में आप का स्वागत है.’ जाहिर है लोगों को भी लग रहा है कि आम आदमी पार्टी राष्ट्रीय राजनीति में आने की तैयारी कर रही है. आम आदमी पार्टी के दफ्तर में भी जो कट आउट और बैनर लगे हैं उनमें भी राष्ट्र निर्माण वाला स्लोगन लिखा हुआ है. ये भी कयास लगाए जा रहे हैं की क्या आम आदमी पार्टी बिहार में चुनाव लड़ेगी? जेडीयू से निकाले जाने के बाद प्रशांत किशोर अरविंद केजरीवाल के साथ हैं. हो सकता है कि केजरीवाल प्रशांत किशोर के बल पर बिहार में आने वाले विधानसभा चुनाव में खुद को आजमाएं.

(With inputs from india.com)